Mantra

मनसा देवी मंत्र

Mansa Devi Mantra मनसा देवी मंत्र

हिन्दू वेद पुराणों में कई देवी-देवताओं का जिक्र मिलता है उनमे से एक प्रमुख देवी हैं माँ मनसा देवी। माँ मनसा देवी की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। माँ मनसा देवी त्रिलोकीनाथ और माता पार्वती की बेटी हैं। प्रतिदिन दूर दूर से लोग माँ के दर्शन करने के लिए भक्त यहाँ आते …

Mansa Devi Mantra मनसा देवी मंत्र Read More »

budh grah ke upay

Budh Grah Ke Upay बुध को प्रबल करने के उपाय

इस आर्टिकल में आप बुध को प्रसन्न करने के उपाय के बारे में जानेंगे। बुध ग्रह नवग्रहों में एक प्रमुख ग्रह हैं जिसका अच्छा और बुरा प्रभाव प्रत्येक मनुष्य के जीवन पर पड़ता ही है। आइये जानते हैं की बुध को प्रबल करने के उपाय क्या हैं और किस प्रकार आप बुध ग्रह को अनुकूल …

Budh Grah Ke Upay बुध को प्रबल करने के उपाय Read More »

Shri Durga Chalisa दुर्गा चालीसा

Shri Durga Chalisa श्री दुर्गा चालीसा नमो नमो दुर्गे सुख करनी ।नमो नमो दुर्गे दुःख हरनी ॥ निरंकार है ज्योति तुम्हारी ।तिहूँ लोक फैली उजियारी ॥ शशि ललाट मुख महाविशाला ।नेत्र लाल भृकुटि विकराला ॥ रूप मातु को अधिक सुहावे ।दरश करत जन अति सुख पावे ॥ तुम संसार शक्ति लै कीना ।पालन हेतु अन्न धन …

Shri Durga Chalisa दुर्गा चालीसा Read More »

Konark Surya Mandir

Konark Surya Mandir ये मंदिर जहाजों को अपनी तरफ खींच लेता था

Subscribe Bhakti Ocean YouTube Channel Read more इन्हे भी पढ़ें साई कष्ट निवारण मंत्र क्या है? अष्ट लक्ष्मी कुबेर मंत्र क्या है ? सफलता के लिए शक्तिशाली हनुमान मंत्र सफल बनाते हैं ये साई मंत्र छात्रों के लिए शक्तिशाली सरस्वती मंत्र

Vakratunda Mahakaya in Hindi

वक्रतुण्ड महाकाय सूर्यकोटि समप्रभ : श्री गणेश मंत्र (Vakratunda Mahakaya in Hindi)

Vakratunda Mahakaya in Hindi वक्रतुण्ड महाकाय वक्रतुण्ड महाकाय मंत्र का हिंदी में मतलब वक्रतुण्ड: मुड़ी हुई घुमावदार सूंडमहाकाय: विशाल कायासूर्यकोटि: सूर्य के जैसा तेजवानसमप्रभ: सभी प्रकार के गुणों से संपन्न और प्रतिभाशालीनिर्विघ्नं: बिना विघ्न बाधा केकुरु: पूरा करेंमे: मेरेदेव: भगवानसर्वकार्येषु: सभी कार्यसर्वदा: हर समय

Sankat Mochan Hanuman Lyrics

Sankat Mochan Hanuman Lyrics हनुमानाष्टक

Sankat Mochan Hanuman Lyrics॥ हनुमानाष्टक ॥ बाल समय रवि भक्षी लियो तब,तीनहुं लोक भयो अंधियारों ।ताहि सों त्रास भयो जग को,यह संकट काहु सों जात न टारो।देवन आनि करी बिनती तब,छाड़ी दियो रवि कष्ट निवारो ।को नहीं जानत है जग में कपि,संकटमोचन नाम तिहारो ॥ बालि की त्रास कपीस बसैं गिरि,जात महाप्रभु पंथ निहारो ।चौंकि …

Sankat Mochan Hanuman Lyrics हनुमानाष्टक Read More »

Baglamukhi Mata Mandir Nalkheda

Baglamukhi Mata Mandir Nalkheda बगलामुखी माता मंदिर नलखेडा

Baglamukhi Mata Mandir Nalkheda बगलामुखी माता कौन है पूरे विश्व में बगलामुखी माता के मात्र 3 मंदिर है मां बगलामुखी मंत्र Maa Baglamukhi Mantra | Maa Baglamukhi Beej Mantra Maa Baglamukhi Mantra Benefits यहां कैसे पहुंचें? Read More

Sigandur Chowdeshwari Temple

Sigandur Chowdeshwari Temple

Sigandur Chowdeshwari Temple Timings Regular DaysMorning: 7am – 2pm , Afternoon: 3pm – 7:30pm Amavasya/PoornimaNight 11:30pm to 3.30am Early morning next day Sigandur Chowdeshwari Temple Contact Number Sigandur Chowdeshwari Temple Phone Number :- Mobile No : 9449170712, 9448954052 / Email:- info@sigandurchowdeshwari.com Sigandur Chowdeshwari Temple Address / Sigandur Chowdeshwari Temple Postal Address Shree Sigandoor Chowdamma Devi …

Sigandur Chowdeshwari Temple Read More »

Lingashtakam Lyrics in Hindi

Lingashtakam Lyrics in Hindi लिङ्गाष्टकम्

Subscribe Bhakti Ocean YouTube Channel ब्रह्ममुरारिसुरार्चितलिङ्गं निर्मलभासितशोभितलिङ्गम् ।जन्मजदुःखविनाशकलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥१॥ देवमुनिप्रवरार्चितलिङ्गं कामदहं करुणाकरलिङ्गम् ।रावणदर्पविनाशनलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥२॥ सर्वसुगन्धिसुलेपितलिङ्गं बुद्धिविवर्धनकारणलिङ्गम् ।सिद्धसुरासुरवन्दितलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥३॥ कनकमहामणिभूषितलिङ्गं फणिपतिवेष्टितशोभितलिङ्गम् ।दक्षसुयज्ञविनाशनलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥४॥ कुङ्कुमचन्दनलेपितलिङ्गं पङ्कजहारसुशोभितलिङ्गम् ।सञ्चितपापविनाशनलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥५॥ देवगणार्चितसेवितलिङ्गं भावैर्भक्तिभिरेव च लिङ्गम् ।दिनकरकोटिप्रभाकरलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥६॥ अष्टदलोपरिवेष्टितलिङ्गं सर्वसमुद्भवकारणलिङ्गम् ।अष्टदरिद्रविनाशितलिङ्गं तत् प्रणमामि सदाशिवलिङ्गम् ॥७॥ सुरगुरुसुरवरपूजितलिङ्गं …

Lingashtakam Lyrics in Hindi लिङ्गाष्टकम् Read More »