Shirdi Sai Baba Temple Mylapore साई बाबा मंदिर माईलापुर

Shirdi Sai Baba Temple Mylapore – जानिए शिरडी साई मंदिर की तरह ही मशहूर साई बाबा के एक और मंदिर के बारे में जो सभी साई भक्तों की आस्था का केंद्र बिंदु है। साई बाबा शिरडी के एक मशहूर संत थे जिन्होंने सदैव अपने भक्तों की सहायता की और उन्हें सही मार्ग पर चलने की शिक्षा दी। साई बाबा का इतिहास, साईं बाबा के माता पिता का नाम और साईं बाबा किसके अवतार है ये जानने के लिए आप नीचे दिया गया आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

साई बाबा का इतिहास

साई बाबा के भक्त पूरी दुनिया में फैले हुए हैं। आज विश्व के कोने कोने में साई बाबा के मंदिर हैं। जो लोग शिरडी नहीं आ सकते वो बाबा की पूजा अपने इलाके के साई मंदिर में जाकर करते हैं। बाबा का साई कष्ट निवारण मंत्र एक ऐसा मंत्र है जो हर प्रकार की बाधा का निवारण करने में सक्षम है।

साई बाबा सत्य, प्रेम और करुणा के सागर थे जिन्होंने अपने जीवन काल में हज़ारों भक्तों का भला किया। आज भी बाबा के भक्त साई बाबा के चमत्कारों का अनुभव करते ही रहते हैं। ऐसी मान्यता है की साई बाबा के द्वार से कभी कोई खाली नहीं लौटता है।

Shirdi Sai Baba Temple Mylapore

शिरडी साईंबाबा मंदिर भारत के चेन्नई में मायलापुर के क्षेत्र में स्थित एक हिंदू मंदिर है। यह मंदिर शिरडी के संत श्री साईं बाबा का एक प्रसिद्ध मंदिर है जहाँ सालों भर भक्तों का आना जाना लगा ही रहता है। यह एक सुंदर और सुव्यवस्थित परिसर है जिसमे साई बाबा की विधिवत पूजा अर्चना होती है।

मंदिर की स्थापना 1952 के आसपास, चेट्टियार के एक व्यापारी द्वारा दिए गए पैसे से साई भक्त नरसिंहस्वामी द्वारा की गई थी। इसे भारत का सबसे प्रतिष्ठित साई बाबा का मंदिर माना जाता है। ये मंदिर अखिल भारतीय साईं समाज के लिए केंद्रीय बिंदु है।

अखिल भारतीय साई समाज एक संगठन है जिसकी स्थापना सात दशक से भी पहले श्री नरसिंहस्वामीजी के माध्यम से की गई थी। इस संस्था का प्राथमिक लक्ष्य शिरडी के श्री साईं बाबा के मूल्यों का आध्यात्मिक और धार्मिक प्रचार प्रसार करना था। दो दशकों के अथक उपदेश के दौरान, जिसमें पूरे भारत की यात्रा शामिल थी, श्री स्वामीजी ने श्री साईं बाबा के नाम को शिव, राम और कृष्ण जैसे हिन्दू भगवानों के नामों की तरह प्रसिद्ध बनाया।

श्री स्वामीजी कई पुस्तकों के लेखक थे, जिन्होंने इस तथ्य पर प्रकाश डाला कि श्री साईं बाबा का उद्देश्य दो अलग-अलग समुदायों को एक ही समूह में लाना था। बाबा एक ऐसे धर्म के प्रचारक थे जो प्रेम के साथ शांति और सद्भाव पर जोर देते थे। साथ ही साथ बाबा किसी विशेष धर्म से संबंधित नहीं थे बल्कि उनके लिए सारे धर्म एक सामान थे।

इस मंदिर में एक पवित्र अग्नि है जिसे धुनि कहते हैं ये शिरडी के साई बाबा की धुनि से लायी गयी है और ये धुनि सदैव जलती ही रहती है। यहां भक्तों को बाबा की मूर्ति को छूने की अनुमति है। साई बाबा की मूर्ति शुद्ध सफेद संगमरमर से बनी है। भक्त बाबा को माला और वस्त्र भी चढ़ा सकते हैं। इस मंदिर में पहुंच के बहुत ही सुखद अहसास होता है।

इस मंदिर में साई बाबा के अलावा द्वारका माई अन्ना, गुरुस्थान और श्री नरसिम्हा स्वामी जी की भी समाधियां हैं।

Mylapore Sai Baba Temple Timings

सुबह 5:00 बजे से दोपहर 1:00 बजे तक और शाम 4:00 बजे से रात्रि 9:00 बजे तक

Mylapore Sai Baba Temple Address

Sri Sai Baba Temple, 51B, V C Garden Street, Alamelu Mangapuram, Mylapore, Chennai – 600 004

Mylapore Sai Baba Temple Phone Number

Landline:- 044-24640784

इसी प्रकार की धार्मिक जानकारियों के लिए हमें सब्सक्राइब करें। आप हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करके हमारे वीडियो भी देख सकते हैं। साथ ही साथ आप हमें सोशल मीडिया साइट जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम और फेमनेस्ट पर फॉलो कर सकते हैं।

शेयर करें

Leave a Comment